Today Breaking News

Recent Posts Widget

Search This Blog

Tuesday, 29 May 2018

संस्कारशाला-2018 का विषय तय करने के लिए बैठक: उप्र, बिहार व हरियाणा के प्रमुख स्कूलों के प्रधानाचार्यों ने विषय को लेकर दिए सुझाव

संस्कारशाला-2018 का विषय तय करने के लिए बैठक: उप्र, बिहार व हरियाणा के प्रमुख स्कूलों के प्रधानाचार्यों ने विषय को लेकर दिए सुझाव

नई दिल्ली : स्कूलों में नए सत्र का आगाज हो चुका है। इसी के साथ विशेषज्ञों ने वर्ष-2018 की संस्कारशाला पर भी शुरू कर दिया है। इस बार की संस्कारशाला में ऐसे कौन से विषय, बातें व तथ्य शामिल किए जाएं जिससे बच्चों को संस्कार, सदाचार और नैतिक मूल्यों को आत्मसात करने में और अधिक मददगार हो सके। इसी पर चर्चा करने के लिए उत्तर प्रदेश, बिहार व हरियाणा के कई स्कूलों के ¨प्रसिपलों के साथ दैनिक जागरण कार्यालय में सोमवार को विशेषज्ञ जुटे। इस विचार- में दैनिक जागरण की टीम भी शामिल हुई। 1चर्चा में शिक्षकों ने कहा कि अपने छात्र-छात्रओं को अच्छे संस्कार देने के लिए वह भी काफी उत्साहित हैं। बच्चों को ऐसी शिक्षा दी जाए जिससे उनमें देश व समाज के लिए कुछ अच्छा करने का जज्बा पैदा हो। देश का भविष्य यानी बच्चे बदलेंगे तो देश व समाज भी बदलेगा। इस बदलाव में UPTET 68500 शिक्षक व अभिभावक ही बच्चों के सबसे करीबी व विश्वासपात्र भागीदार बन सकते हैं। पिछले आठ वर्ष से जारी संस्कारशाला में पिछले वर्ष देश भर के 1600 स्कूलों के 12 लाख बच्चों ने हिस्सा लिया था। जागरण प्रबंधन को उम्मीद है इस बार इससे भी ज्यादा प्रतिभागी बच्चे इसमें शामिल होकर अपने जीवन में अभूतपूर्व सकारात्मक परिवर्तन लाएंगे। बच्चों में सामाजिक मूल्यों को मजबूत करने के लिए दैनिक जागरण हर साल संस्कारशाला का आयोजन करता है।

संस्कारशाला-2018 का विषय तय करने के लिए बैठक: उप्र, बिहार व हरियाणा के प्रमुख स्कूलों के प्रधानाचार्यों ने विषय को लेकर दिए सुझाव Rating: 4.5 Diposkan Oleh: C2S HUB

0 comments:

Post a Comment

Most Important News

Recent Posts Widget